मार्क जुकरबर्ग कौन है? मार्क जुकरबर्ग कैसे बने सोशल मीडिया के बादशाह

मार्क जुकरबर्ग कौन है? मार्क जुकरबर्ग कैसे बने सोशल मीडिया के बादशाह
मार्क जुकरबर्ग कौन है? मार्क जुकरबर्ग कैसे बने सोशल मीडिया के बादशाह.

मार्क जुकरबर्ग कौन है? मार्क जुकरबर्ग कैसे बने सोशल मीडिया के बादशाह – दोस्तों हमें पूरा यकीन है आप सभी ने मार्क जुकरबर्ग के बारे में जरूर सुना होगा। मार्क जुकरबर्ग के बारे में आज हर कोई जानता है। जो मार्क जुकरबर्ग के बारे में नहीं जानते वह हमेशा मार्क ज़ुकेरबर्ग के बारे में जानने के इच्छुक रहते हैं। फिर भी अगर आप मार्क ज़ुकेरबर्ग के बारे में नहीं जानते हैं तो आज का यह आर्टिकल पढ़ने के बाद आप मार्क जुकरबर्ग के बारे में सब कुछ जान जाएंगे। क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको मार्क ज़ुकेरबर्ग से संबंधित संपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं।

दोस्तों इससे पहले कि हम आपको मार्क जुकरबर्ग के बारे में बताएं मैं आपको थोड़ी सी जानकारी फेसबुक के बारे में दे दूं। फेसबुक से तो आप सभी परिचित ही होंगे और मुझे पूरा यकीन है कि आप सभी फेसबुक का इस्तेमाल भी करते होंगे।  फेसबुक आज दुनिया का सबसे बड़ा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म बन चुका है। एक समय था जब फेसबुक सिर्फ कुछ हजार लोगों तक ही सीमित था। 

लेकिन वर्तमान में फेसबुक पर करोड़ों यूजर रात दिन फेसबुक को यूज करते हैं और अपनी इंफॉर्मेशन को शेयर करते हैं। आपको जानकार हैरानी होगी फेसबुक आज इतना पॉपुलर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म बन चुका है कि इसने अभी कुछ वर्षों पहले इंस्टाग्राम व्हाट्सएप जैसे अन्य कई पॉपुलर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को भी खरीद लिया है।

 क्या आपके मन में कभी प्रश्न आया है कि आखिर फेसबुक का आविष्कार किसने किया था? दोस्तों फेसबुक का आविष्कार मार्क जुकरबर्ग ने ही किया था जिनके बारे में आज इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं।

मार्क जुकरबर्ग वही बड़ी हस्ती हैं जिन्होंने इंटरनेट की दुनिया में एक नई क्रांति ला दी और फेसबुक के जैसे महत्वपूर्ण सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का आविष्कार किया। मार्क जुगर बर्ग ने कभी सोचा भी नहीं था कि उनका यह अविष्कार एक दिन लोगों की जरूरत बन जाएगा। वर्तमान समय में यह हकीकत है फेसबुक हर किसी की जरूरत बन चुका है।

मार्क जुकरबर्ग का जीवन संघर्ष

अगर आप मार्क जुकरबर्ग का जीवन संघर्ष सुनेंगे तो आप हैरान रह जाएंगे। क्या आप यकीन करेंगे मार्क ज़ुकेरबर्ग ने जब शुरुआत में टेक्नोलॉजी से संबंधित काम करना शुरू किया था तब वह किराए के कमरे में रहते थे। वह दौर था वर्ष 2006 का। वर्ष 2006 में मार्क जुकरबर्ग  10×10 के किराए के कमरे में रहते थे और वहीं से उन्होंने फेसबुक एप्लीकेशन की नीव डाली थी। जो आज सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की दुनिया में सबसे बड़ा नाम बन चुका है। 

जिस उम्र में लड़के स्वयं के पैरों पर खड़ा होने का सपना देखते हैं उस उम्र में मार्क जकरबर्ग करोड़ों की संपत्ति के मालिक बन गए थे। यह सब उन्हें विरासत में नहीं मिला था यह सब मार्क जुकरबर्ग की रात और दिन की मेहनत का नतीजा था । वर्तमान समय में मार्क ज़ुकेरबर्ग 22 वर्ष के हैं और आपको जानकर हैरानी होगी आज उनके पास अरबों रुपए की संपत्ति है। मार्क ज़ुकेरबर्ग के लिए वर्ष 2010 सबसे महत्वपूर्ण वर्ष था क्योंकि इस वर्ष उन्हें दुनिया के 10 सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की लिस्ट में भी शामिल किया गया था। 

मार्क जुकरबर्ग का जन्म स्थान एवं माता पिता

बहुत से लोगों के मन में भ्रम है कि मार्क ज़ुकेरबर्ग किस देश के नागरिक हैं? आपकी जानकारी के लिए बता दें मार्क जुकरबर्ग का जन्म अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में हुआ था और यह अमेरिका के स्थाई नागरिक हैं। मार्क जुगर बर्ग की माता का नाम केरेन केप्टनर है जो कि पेशे से एक मनोवैज्ञानिक है। 

मार्क जुकरबर्ग की सफलता के पीछे उनके पिता एडवर्ड की महत्वपूर्ण भूमिका है। एडवर्ड पेशे से एक डेंटिस्ट है जिन्होंने मेहनत करके मार्क जुकरबर्ग को इस लायक बनाया। मार्क जुकरबर्ग के पिता अपने क्लीनिक में कंप्यूटर पर कोडिंग का काम किया करते थे जिसे मार्क जुकरबर्ग बड़े ही गौर से देखते।  इसके पश्चात धीरे-धीरे मार्क ज़ुकेरबर्ग कोई भी कंप्यूटर की दुनिया में इंटरेस्ट आने लगा और उन्होंने पिता के साथ मिलकर एक म्यूजिक प्लेयर का निर्माण किया।

मार्क ज़ुकेरबर्ग की संपत्ति

बहुत से लोग जानना चाहते हैं मार्क जुकरबर्ग की संपत्ति कितनी है?  दोस्तों आपको जानकर हैरानी होगी मार्क जुकरबर्ग ने 22 साल की उम्र में ही 50 अरब से भी ज्यादा की संपत्ति इकट्ठा की है।मार्क जुगर बर्ग के पास वर्तमान में 50 अरब से ज्यादा की संपत्ति है। दुनिया में जब भी सबसे अमीर व्यक्तियों की लिस्ट शामिल की जाती है तो उसमें मार्क ज़ुकेरबर्ग का नाम अवश्य होता है। क्या किसी ने सोचा था यह किराए के कमरे में रहने वाले मार्क जुकरबर्ग एक दिन 50 अरब संपत्ति के मालिक बन जाएंगे।

फेसबुक के अविष्कार का इतिहास

दोस्तों आपको जानकर हैरानी होगी फेसबुक के अविष्कार का आईडिया मार्क ज़ुकेरबर्ग का नहीं था। उस समय मार्क ज़ुकेरबर्ग स्कूली शिक्षा ग्रहण कर रहे थे। यह वह ऐसा दौर था जिस दौर में सोशल मीडिया जैसा कुछ भी नहीं था इसीलिए छात्रों को आपस में कम्युनिकेट करने में बहुत समस्या होती थी।

 एक दिन अचानक अमेरिका के एक प्रसिद्ध कारोबारी नरेंद्र ने मार्क ज़ुकेरबर्ग से एक कैसे प्लेटफार्म का निर्माण करने के लिए कहा जिससे ढेर सारे लोग आपस में कम्युनिकेट कर सके।  इसके बाद मार्क ज़ुकेरबर्ग ने अपनी रिसर्च स्टार्ट की और उनके मन में फेसबुक जैसा एक एप्लीकेशन निर्माण करने का आइडिया आया। यह दौर था वर्ष 2004 का जब सबसे पहली बार मार्क जुगर बर्ग के दिमाग में फेसबुक का आविष्कार करने का ख्याल आया था। 

मार्क जुकरबर्ग ने अपने इस प्लान को अपने दोस्तों के साथ शेयर किया। मार्क ज़ुकेरबर्ग के दोस्त भी टेक्नोलॉजी में इंटरेस्ट रखते थे। इन्हीं के साथ मिलकर मार्क जुकरबर्ग ने सबसे पहले एक वेबसाइट का निर्माण किया। इस वेबसाइट का नाम facemash था।  यह दुनिया की सबसे पहली सोशल मीडिया वेबसाइट थी।

 लेकिन इसमें बहुत सारी कमियां थी।  इन कमियों को दूर करने के लिए मार्क जुकरबर्ग और उनके दोस्तों ने ढेर सारा अध्ययन किया और अंत में इसको और अपडेट किया गया इसी कमियों को सुधारा गया और इसका नाम thefacebook रखा गया।  तभी से इस प्लेटफार्म का नाम फेसबुक पड़ा जिसे आज हम फेसबुक एप्लीकेशन का नाम से जानते हैं।

फेसबुक डाटा लीक मामला

दोस्तों हर किसी व्यक्ति के जीवन में उतार चढ़ाव आते रहते हैं।  मार्क ज़ुकेरबर्ग के जीवन में भी कठिन समय आया । मार्क जुकरबर्ग केवल 19 वर्ष के थे और 19 वर्ष में ही फेसबुक एप्लीकेशन देश और दुनिया में पॉपुलर हो गया था जिस पर करोड़ों लोग अपना डाटा शेयर करते थे। अमेरिका में चुनाव का समय था। चुनाव के समय में मार्क जुकरबर्ग के ऊपर सत्ता प्रतिपक्ष ने डाटा लीक करने का आरोप लगाया। 

सत्ता प्रतिपक्ष ने आरोप लगाया कि मार्क जुकरबर्ग ने अपने निजी फायदे के लिए फेसबुक का डाटा कैंब्रिज एनालतिका नाम की कंपनी को बेच दिया है जिस डाटा का इस्तेमाल अमेरिका चुनाव में हुआ है। हालांकि यह मामला कोर्ट में भी गया और इसमें मार्क ज़ुकेरबर्ग गलत साबित हुए। इस घटना के बाद मार्क जुकरबर्ग ने फेसबुक पर सार्वजनिक रूप से माफी मांगी थी और लोगों को भरोसा दिलाया कि अब ऐसा नहीं किया जाएगा। 

Filmyzilla 2020 -Bollywood And Hollywood Movies

मार्क जुकरबर्ग का जीवन संघर्ष

मार्क जुकरबर्ग की सफलता के पीछे उनका ढेर सारा संघर्ष छुपा है।  मार्क जुकरबर्ग को कई बेज्जती का सामना भी करना पड़ा। जब मार्क जुकरबर्ग ने फेसबुक के अविष्कार करने की घोषणा की थी तब वह केवल 10 या 12 वर्ष के लिए थे। जब अन्य वैज्ञानिकों को पता चला कि मार्क ज़ुकेरबर्ग यह अविष्कार करने जा रहे हैं तो वहां मार्क ज़ुकेरबर्ग का मजाक उड़ाने लगे उन्हें तरह-तरह की बातें कहने लगे। 

मार्क ज़ुकेरबर्ग को नीचा दिखाने की हर एक कोशिश की और उनके हौसले को तोड़ना चाहा। लेकिन अंत में सभी समस्याओं को पार करके मार्क जुकरबर्ग ने वह कर दिखाया जिसकी कभी किसी ने कल्पना भी नहीं की। 

निष्कर्ष

आज इस आर्टिकल में हमने आपको मार्क जुकरबर्ग के बारे में बताया।  इस आर्टिकल में हमने आपको बताया मार्क जुकरबर्ग कौन है?  आशा करता हूं आज की जानकारी आपके लिए साबित होगी आप इससे सबक लेंगे। अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ में शेयर करे।