फाइनेंसियल गोल क्या है ? ( Types of Financial Goals in Hindi )

फाइनेंसियल गोल क्या है ? ( Types of Financial Goals in Hindi )
फाइनेंसियल गोल क्या है ? ( Types of Financial Goals in Hindi

फाइनेंसियल गोल क्या है ? ( Types of Financial Goals in Hindi ) – दोस्तों अगर आप भविष्य में पैसों को लेकर चिंतित हैं। यदि आप पैसों की बचत करना चाहते हैं, लेकिन आपको समझ नहीं आ रहा है कि बचत किस प्रकार करें। तो आज का यह आर्टिकल निश्चित रूप से आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण साबित होने वाला है। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको फाइनेंशियल गोल्स के बारे में बताएंगे। इसे जानने के बाद आप भी अपनी बचत शुरू कर सकते हैं।

आज पूरी दुनिया पैसो के पीछे भाग रही है। पैसा एक ऐसी आवश्यक वस्तु बन चुका है। यदि यह हमारे पास पैसेना हो तो हम जीवन में कुछ भी नहीं कर सकते हैं। पूर्वजों ने कहा था जिंदा रहने के लिए हवा पानी और भोजन आवश्यक है, लेकिन वर्तमान समय में जिंदा रहने के लिए हवा पानी और भोजन के साथ-साथ  पैसा भी महत्वपूर्ण है। 

यदि आपके पास पैसा है तो आप हवा पानी और भोजन खरीद सकते हैं। हमारे देश में 80% जनसंख्या गरीबी रेखा के अंतर्गत अपना जीवन यापन करती है। ऐसे लोग रोज कमाने रोज खाने वाले होते हैं। जिन लोगों को विरासत में ढेर सारी प्रॉपर्टी और मोटा बैंक बैलेंस मिलता है उन्हें फाइनेंशियल गोल्स बनाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है, लेकिन एक मिडिल क्लास आदमी के लिए फाइनेंशियल गोल्स बहुत महत्वपूर्ण होता है।

फाइनेंसियल गोल क्या है ? 

जितने भी व्यक्ति अपना सुखी जीवन चाहते हैं वह अपना एक फाइनेंसियल गोल डिसाइड करते हैं। यदि आप financial goals के बारे में नहीं जानते तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, यह पैसे कमाने का तथा पैसे खर्च करने का एक निश्चित रोडमैप होता है। आज के समय में लोगों के पास कम सैलरी है तथा खर्चे अधिक है। 

ऐसी स्थिति में लोग अपना पैसा बहुत सोच समझकर खर्च करते हैं। Middle class का इंसान वर्ष के प्रारंभ में या महीने के प्रारंभ में अपना ही को फाइनेंसियल गोल्ड डिसाइड करता है जिसमें वह हर खर्चे के लिए अलग पैसे निकालता है। 

फाइनेंशियल गोल के अंतर्गत बच्चों को की शिक्षा में कितना पैसा खर्च करना है, घर के राशन में कितना पैसा खर्च करना है, बैंक में कितना रुपए जमा करना है, दवाइयों पर कितना पैसा खर्च करना है, बीमा पॉलिसी में कितना रुपए जमा करना है यह सब प्लान किया जाता है।

फाइनेंसियल गोल के प्रकार

दोस्तों अगर आप अपना फाइनेंसियल गोल डिसाइड करना चाहते हैं लेकिन आपको समझ नहीं आ रहा है कि फाइनेंसियल गोल किस प्रकार डिसाइड करें । आपकी सहायता के लिए नीचे हम आपको कुछ विशेष प्रकार के financial goals बता रहे हैं।

ULTRA SHORT FINANCIAL GOALS

दोस्तों जैसा कि आपको टाइटल पढ़कर समझ में आ गया होगा यह फाइनैंशल गोल का वह प्रकार है जो आपको 1 साल के अंतर्गत पूरा करना होता है। आप अपने 1 साल में जो भी खर्चे पूरे करेंगे या फिर जिन खर्चों के लिए बजट निकालेंगे व खर्चे अल्ट्रा शॉर्ट फाइनेंसियल गोल के अंतर्गत आते हैं। 

उदाहरण

1 साल के अंतर्गत अपने लिए बाइक लेना, घर का मेंटेनेंस कराना, कर्ज वापस करना, इत्यादि

SHORT TERMS FINANCIAL GOALS

यह फाइनेंसियल गोल का वह प्रकार है जो आपको लगभग 3 साल के अंतर्गत पूरा करना होता है। इस गोल में आप उन खर्चो को नोट करते हैं जो खर्चे आपको 3 साल के अंतर्गत करने होते हैं। 

उदाहरण

बच्चे की स्कूली शिक्षा प्रारंभ करने के लिए पैसे बचाना, अपने किसी भाई या बहन की शादी करने के लिए बजट निकालना, 

MID TERM FINANCIAL GOALS

इस प्रकार के फाइनेंसियल गोल में आप 10 साल के अंदर किए जाने वाले खर्चों को शामिल करते हैं। जो भी खर्चा आपको 10 साल के अंतर्गत पूरा करना है इन खर्चों को मिड टर्म फाइनेंशियल गोल्स के अंतर्गत रखा जाता है।

उदाहरण

किसी नए स्थान पर प्लाट लेना तथा उस पर घर का निर्माण करना, अपना कोई नया बिजनेस शुरू करने का प्लान करना

Filmy4wap 2020 -HD Movies Download

रिटायरमेंट प्लान

हम सभी का शरीर समय के साथ साथ बूढ़ा हो जाता है। अपनी युवावस्था में आप कंपनी में रात दिन काम करके पैसे कमा सकते हैं लेकिन वृद्धावस्था में आप काम नहीं कर सकते, इसीलिए आपको वृद्धावस्था के लिए भी पैसे जोड़कर रखने होते हैं ताकि बुढ़ापे में आपको किसी पर आश्रित ना रहना पड़े। आप रिटायरमेंट प्लान प्रतिवर्ष कर सकते हैं। प्रतिवर्ष अपनी सैलरी का कुछ हिस्सा आप बैंक में जमा करें ताकि वृद्धावस्था में या रिटायरमेंट की अवस्था में यह पैसा आप के काम आए।

 निष्कर्ष

आज इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको फाइनेंशियल गोल्स के बारे में बताया। हमने आपको बताया फाइनेंशियल गोल्स कितने प्रकार के होते हैं तथा आप किस प्रकार अपना फाइनेंसियल गोल बना सकते हैं? आशा करता हूं यह जानकारी आपके लिए हेल्पफुल साबित हुई है। अगर आप इसी प्रकार के अन्य जानकारियां पाना चाहते हैं तो आर्टिकल को प्रतिदिन पढ़िए। आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। शुभ दिन